Gharelu Upay - घरेलु उपाय

Gharelu Upay Upchar aur Nuskhe

शहद के पांच ५ सबसे बड़े फायदे

शहद के पांच ५ सबसे बड़े फायदे (शहद के फायदे)

  1. गले में खराश या खांसी हो तो बड़े को शहद चबाकर या इसका चूर्ण शहद के साथ लेने की सलाह दी जाती है। लेकिन इसके अलावा भी शहद के और भी कई फायदे हैं। नद्यपान, जो स्वाद में मीठा होता है, कैल्शियम, ग्लिसरिक एसिड, एंटीऑक्सिडेंट और एंटीबायोटिक से भरपूर होता है। इसमें प्रोटीन भी होता है।

  2. आंखों के विकार, मुंह के छाले, गले में खराश, सांस लेने में तकलीफ, हृदय रोग और पुराने घावों के उपचार में बड़े शहद का उपयोग बहुत अच्छा होता है। इन सभी विकारों के उपचार में नद्यपान का उपयोग सदियों से किया जा रहा है। वरिष्ठ शहद पेट फूलना, कफ और पित्त से राहत दिलाकर कई बीमारियों के लिए अमृत साबित हुआ है।

  3. शहद के अर्क से आंखों को धोने से आंखों से संबंधित बीमारियों से छुटकारा मिलता है। बड़े शहद के पाउडर और सौंफ के पाउडर को बराबर मात्रा में मिलाएं। इस मिश्रण का एक चम्मच प्रतिदिन शाम को सेवन करने से दृष्टि दोष दूर हो जाता है और आंखों की जलन बंद हो जाती है। अगर किसी कारण से आंखें लगातार लाल रहती हैं। शहद को पानी में भिगोकर उसमें एक रुई भिगोना चाहिए।

  4. अक्सर मुंह गर्मी के संपर्क में रहता है। मुंह में छोटे-छोटे छाले हो जाते हैं और कुछ भी खाना-पीना बहुत मुश्किल हो जाता है। ऐसे में शहद का एक छोटा टुकड़ा डालकर इस टुकड़े को चबा लें। इससे न सिर्फ मुंह के छाले साफ होंगे, बल्कि खांसी या गले की खराश से भी राहत मिलेगी। अगर आपको सूखी खांसी है तो मुलेठी को पानी में उबालकर एक चम्मच चाट लें। इसमें थोड़ा सा शहद मिलाकर दिन में तीन बार चाटें। मुलेठी को पानी में उबालकर तैयार किया गया अर्क, वायुमार्ग को साफ करने के लिए हर शाम 20 से 25 मिलीलीटर सेवन करें। साथ ही अगर लगातार खांसी हो रही हो तो शहद को चबाने से खांसी बंद हो जाएगी।

  5. सफेद दाग में भी लाभकारी होती है। त्वचा पर कील-मुंहासे होने पर मुलेठी में शहद मिलाकर लगाने से मुंहासे जल्दी दूर हो जाते हैं और कोई संक्रमण नहीं होगा। साथ ही पुराने घाव हो तो शहद और तिल को आपस में बांट लें और उसमें घी मिलाकर घाव पर लगाएं। इससे घाव जल्दी भरने में मदद मिलती है।  
शहद के फायदे
शहद के फायदे
error: Content is protected !!