Gharelu Upay - घरेलु उपाय

Gharelu Upay Upchar aur Nuskhe

सांप काट ले तो क्या करे?

सांप काट ले तो क्या करे? – What to do if a snake bites?

आज हम जानेगे की अगर हमें सांप काट ले तो क्या करना और क्या नहीं चाहिए। इस वक्त मे हमें सबसे पेहले शांति से काम लेना चाहिए और ज्यादा भाग दौड़ नहीं करनी चाहिए या ऐसा कुछ भी जिससे आपका ब्लड प्रेशर बढे।

अब जानते है सांप के काटने पर क्या करे – Now know what to do after snake bite

  • काटने वाली जगह पर चीरा या चीरा नहीं लगाना चाहिए क्योंकि अत्यधिक रक्तस्राव से निशान पड़ने की संभावना होती है।
  • हल सर्पदंश पीड़ित को किसी खुली, साफ जगह पर ले जाएं और 108 नंबर पर कॉल करके एंबुलेंस को कॉल करें।
  • सांप द्वारा काटे गए व्यक्ति को लेटने और शांत रहने के लिए कहा जाना चाहिए।
  • जिस व्यक्ति को सांप ने काटा हो वह मानसिक रूप से थका हुआ होने की संभावना है, उसे मानसिक सहारा देना चाहिए। क्योंकि ज्यादातर सांप गैर विषैले होते हैं। हालांकि, अकेले डर से मरीज की जान को खतरा हो सकता है।
  • बोलने में दिमाग लगाएं। यानी तनाव से मुक्ति मिलेगी।
  • उसे चलने मत दो। यह टॉक्सिन को तेजी से फैलने से रोकता है, जो प्रक्रिया को धीमा कर देगा।
  • घाव को साफ पानी से धो लें। उस पर कीटाणुनाशक लगाएं।
  • रक्त मुंह से रक्त को अवशोषित करने और विषाक्त पदार्थों को निकालने का बिल्कुल भी प्रयास नहीं करना चाहिए।
  • घाव पर बर्फ न लगाएं। साथ ही घाव को रगड़ना नहीं चाहिए।
  • काटे गए स्थान के शीर्ष पर एक पट्टी बांधनी चाहिए।
  • पट्टी बांधते समय रॉड और रस्सी के बीच एक कलम, छड़ी या उंगली रखें।
  • हर 15 से 20 मिनट में पट्टी को 15 सेकंड के लिए छोड़ दें और फिर से उसी तरह बांध दें। इससे न केवल रक्त का संचार बाधित होगा बल्कि रक्त में विषाक्त पदार्थों का संचार भी बाधित होगा। पट्टी को थोड़ा ढीला रखें। यानी उस क्षेत्र में मुख्य रक्त प्रवाह नहीं रुकेगा।
  • सांप के काटे हुए व्यक्ति को चाय, कॉफी या शराब नहीं पीनी चाहिए।
  • सर्पदंश व्यक्ति को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराएं। उसे वाहन से अस्पताल ले जाना चाहिए। तेज गति से न चलें और न ही दौड़ें।
  • कडे डॉक्टर के पास जाने के बाद काटे हुए व्यक्ति को दमा या एलर्जी या कोई बीमारी होने पर डॉक्टर को सूचित करना चाहिए।

इसका एक मात्र उपाय सांप रोधी है, जो सरकारी सामान्य अस्पताल में निःशुल्क दिया जाता है। हाफकिन्स एंटीस्नेक वेनम सीरम (एएसवीएस) सांप के काटने की एक बहुत ही प्रभावी दवा है। अन्य दवाएं भी उपलब्ध हैं।

सांप के काटने पर क्या ना करे – what not to do if bitten by a snake

  • डायन के पीछे समय बर्बाद मत करो। मंत्र से सांप का जहर नहीं हटाया जा सकता।
  • सर्पदंश वाली जगह पर किसी भी जड़ी-बूटी का छिड़काव न करें।
  • नाका रक्त प्रवाह को रोकने के लिए पट्टी का प्रयोग न करें। यह उस अंग को रक्त की आपूर्ति को भी रोक सकता है। इससे स्थायी अंग विफलता हो सकती है।
  • खून घाव से खून न निकालें, घाव को काटें या साफ न करें। यह किसी काम का नहीं है। इसके विपरीत, यह खतरनाक हो सकता है।
  • नाका सर्पदंश वाली जगह पर गर्म लोहे (धब्बे) न लगाएं क्योंकि यह गलत है।
  • उपाय के तौर पर कुछ लोग एक के बाद एक मुर्गी के गुदा घाव को दबाते हैं। यह किसी काम का नहीं है। केवल मुर्गियाँ मरती हैं
सांप काट ले तो क्या करे?
सांप काट ले तो क्या करे?
error: Content is protected !!